फिर रॉकेट बने अदाणी के शेयर, कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 14.54 लाख करोड़

समूह की कुल 11 में से आठ सूचीबद्ध कंपनियों के शेयर चढ़कर बंद हुए, हालांकि 3 कंपनियों में गिरावट रही

0
114
Adani share

नई दिल्ली। तीन राज्यों में भाजपा की जीत के बाद शेयर बाजार में जारी तेजी के बीच अदाणी समूह के शेयर एक बार फिर रॉकेट बनते नजर आ रहे हैं। समूह की कुल 11 में से आठ सूचीबद्ध कंपनियों के शेयर चढ़कर बंद हुए। कुछ शेयरों में 20 फीसदी तक की तेजी रही।

तीन दिनों से जारी तेजी के चलते अदाणी ग्रुप की कंपनियों का मार्केट कैप बुधवार को बढ़कर 14.54 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया। समूह की कुल 11 में से आठ सूचीबद्ध कंपनियों के शेयर चढ़कर बंद हुए। हालांकि तीन कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही। कारोबार के दौरान समूह कह कुछ कंपनियों जैसे कि शेयर 52 सप्ताह के उच्चस्तर पर पहुंच गए। इनमें सांघी इंडस्ट्रीज, अदाणी पावर और अदाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड के शेयर शामिल हैं।

सबसे अधिक 19.98 फीसदी की तेजी अदाणी टोटल गैस के शेयर में रही, जबकि अदाणी ग्रीन एनर्जी में 16.11 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। अदाणी एनर्जी सॉल्यूशंस का शेयर 7.36 फीसदी चढ़ा और एनडीटीवी में 7.07 फीसदी की बढ़त रही। सांघी इंडस्ट्रीज में 4.97 फीसदी, अदाणी विल्मर में 4.11 फीसदी, अदाणी पावर में 4.09 फीसदी और अडाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड में 0.67 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई।

हालांकि, एसीसी के शेयर में 2.59 फीसदी, अदाणी एंटरप्राइजेज में 2.53 फीसदी और अंबुजा सीमेंट्स में 1.48 प्रतिशत की गिरावट रही। समूह की कंपनियों के शेयरों के भाव में इस तेज उतार-चढ़ाव के बाद सभी 11 कंपनियों का संयुक्त बाजार पूंजीकरण बढ़कर 14.54 लाख करोड़ रुपये हो गया। मंगलवार को यह 13.91 लाख करोड़ रुपये पर बंद हुआ था।

इस तरह अडाणी समूह की कंपनियों का कुल बाजार मूल्यांकन एक कारोबारी सत्र में करीब 63,769 करोड़ रुपये उछल गया। यह हिंडनबर्ग रिपोर्ट की वजह से फरवरी-मार्च में आई भारी गिरावट के बाद पहला मौका है जब समूह की कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 15 लाख करोड़ रुपये के करीब पहुंचा है।

जनवरी के अंत में आई हिंडनबर्ग रिपोर्ट में अडाणी समूह पर कंपनियों के शेयरों की कीमतों में हेराफेरी और वित्तीय गड़बड़ियां करने के आरोप लगाए गए थे। हालांकि, समूह ने इन सभी आरोपों को नकारा दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here